एंबुलेंस चालक की लापरवाही बन सकती थी बड़ा हादसा


शहर के जिला अस्पताल के सामने एक घटना घटी, तेज गति से आती एक प्राइवेट एम्बुलेंस डिवाइडर से टकरायी और पलट गयी। जिसमें सवार एक महिला व तीन लोगों की उसके अंदर चीख पुकार मच गयी। मौके पर एसपी सिटी कार्यालय से पुलिस भी पहुंच गयी। लोगों के सहयोग से एम्बुलेंस को सीधा कर खड़ा किया, तब जाकर वह आगे बढ़ी, बताया गया कि उसमें सवार मरीज के चोट आने के साथ ही एक सज्जन को भी चोट आयी। इस पूरे वाकये में गलती एम्बुलेंस चालक की थी जिसने कान में ईयर फोन की लीड रखा रखी थी और 80-90 की रफ्तार से वाहन आगे बढ़ा रहा था। बताते चलें कि थाना टूण्डला क्षेत्र नगला खार निवासी साहब खां पुत्र फूल खां को नगला बरी रोड स्थित एक प्राइवेट बहास्पीटल से प्राइवेट एम्बुलेंस जिला अस्पताल की तरफ आ रही थी। उसमें हेमंत नामक व्यक्ति व एक अन्य एक महिला भी सवार थे। सवार लोगों ने बताया कि प्राइवेट एम्बुलेंस चालक ने कान में ईयर फोन की लीड लगा रखी थी और वह वाहन को काफी तेज रफ्तार 80-90 की स्पीड में चला रहा था। इसी दौरान जिला अस्पताल के सामने अचानक डिवाइडर से टकराते हुये एम्बुलेंस पलट गयी। जिससे उसमें सवार मरीज व तीमारदारों में चीख पुकार मच गयी। मौके पर आसपास के लोग व एसपी सिटी कार्यालय से पुलिस पहुंच गयी। एम्बुलेंस को लोगों के सहयोग से सीधा करते हुये मरीज को उसी में रखवाया। तब आगे बढ़ सका। एम्बुलेंस सवार लोगों का कहना था कि कई बार चालक से ईयर फोन न लगाने की बात कही, पर उसे कुछ सुनाई ही नहीं दे रहा था। यह हादसा बड़ा हादसा बन जाता, अगर इसी दौरान कोई अन्य वाहन भी पीछे आ रहा होता, फिलहाल एक बड़ी घटना होने से बच गयी। ब्यूरो रिपोर्ट फिरोजाबाद रिपोटर गौरव राठौर अग्र भारत उत्तर प्रदेश उत्तराखंड समाचार

More Videos