पिनाहट मे तीन आइसोलेशन वार्ड की जगह चिन्हित

आगरा (पिनाहट) । कोरोना बाइरस की रोकथाम के लिये सरकार हर संभव प्रयास कर रही है। इस महामारी के लिये ब्लाक पिनाहट तीन आइसोलेशन वार्ड बनाये जाने के लिये शासन प्रशासन ने जगह चिन्हित की है।
प्रशासन द्वारा ब्लाक पिनाहट मे आइसोलेशन वार्ड बनाने के लिये तीन काॅलेजो को चिन्हित किया गया जिनमे बसई अरेला स्थित मेवाराम हरिप्रसाद महाविद्यालय स्थित माता सूरज मुखी नर्सिग इंस्टीट्यूट एण्ड रिसर्च सेण्टर व करकोली स्थित स्वामी शांता नंद विद्यापीठ व पिनाहट कस्बा स्थित डी पी सिह महाविद्यालय इन तीनो को चिन्हित किया गया है जिनको जल्द ही आइसोलेशन वार्ड मे तब्दील किया जायेगा खण्ड विकास अधिकारी पिनाहट आर के सिह ने बताया कि तीन जगह आइसोलेशन के लिये चिन्हित की गयी है जिनको जल्द ही तैयार किया जायेगा।

ब्लाक कार्यालय से कोरोना रोकथाम सामग्री उठाये प्रधान 


पिनाहट बुधवार को ब्लाक कार्यालय पिनाहट खण्ड विकास अधिकारी आर के सिह की अध्यक्षता मे बैठक आयोजित हुई बैठक मे मुख्य,रूप से शोसल डिस्टेंश का पालन किया गया बैठक मे ब्लाक के सभी ग्राम पंचायत विकास अधिकारी व एडीओ पंचायत अशोक यादव उपस्थित रहो बैठक मे बीडीओ ने सभी सेक्रेटरी से गांव के सभी ग्राम पंचायतों के प्रधानी से कह कर कोरोना रोकथाम के लिये सामग्री छिड़काव की दवा को ब्लाक कार्यालय से ले जाये और गांवो मे दवा को छिड़काव करे साथ गांव मे इस महामारी से संदिग्ध होने पर तत्काल स्वास्थ्य विभाग को सूचना दे व बाहर से आने वाला लोगो पर नजर रखे।

पुलिस सिखा रही मानवता का पाठ
लाॅक डाउन मे भूखे मर रहै बंदरों को खिलाने पहुचे पुलिस 


पिनाहट देश मे इस समय ऐसा दौर चल रहा है।जिसमे हर ओर परेशानी ही परेशानी है। जिसे हर कोई जूझ रहा है।फिर चाहे वो अमीर हो या गरीब चाहे पशु पक्षी जानवर कोई भी हो।सब भूखे है।ऐसे मे आगरा बाह मार्ग पर उटंगन नदी के पास अरनोटा तिराहे पर बंदरों के कई बडे बडे समूह रहते है।यहां उटंगन के बीहड़ से निकल कर ये बंद सडक पर आ जाते थे जाना है जिन्हे निकलने वाले लोग खाने पीने की सामग्री डालते रहते थे यह सिलसिला कई बर्षों से चल रहा था किन्तु कोरोना मे सीए सूनी पडी है।आवागमन न होने से ये बंदर भी भूखे मर रहै है।जिनकी याद बुधवार को थानाध्यक्ष बसई अरेला शेरसिंह को आयी और ये बडी संख्या मे केले बिल्कुल चना लेकर बंदरों को खिलाने पहुचे तो बडी मात्रा मे बंद खाने पर टूट पडे किसी भी बंदर ने पुलिस की तरफ देखा तक नही बस अपने पेट भरने मे लगे रहै यह कारनामा पुलिस का जिसने भी देखा बस देखकर मानवता का मजबूत कदम कहकर पुलिस की वाहवाही करता था। बतादे कि थानाध्यक्ष बसई अरेला शेरसिंह कोरोना बाइरस के लाॅक डाउन मे रोज ऐसा कर रहै है जिससे सबको मदद मिल रही है।