चार दम्पतियों ने देहदान का संकल्प लिया

बीकानेर. बीकानेर शहर के आठ वरिष्ठ नागरिकों ने बुधवार को देहदान का एकसाथ संकल्प लिया। अशास्त्री नगर के रावत अस्पताल में आयोजित देहदान संकल्प समारोह में वरिष्ठ नाक, कान एवं गला रोग विशेषज्ञ डॉ. राकेश रावत एवं उनकी धर्मपत्नी ज्योत्सना रावत, उनके पिता रामकिशोर एवं माता रतन रावत, एस. एस. भार्गव एवं उनकी धर्मपत्नी वीना भार्गव तथा नरेन्द्र गुप्ता एवं उनकी धर्मपत्नी आभा गुप्ता ने देहदान का संकल्प लिया।

सरदार पटेल मेडिकल कॉलेज के शरीर सरंचना विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. मोहन सिंह ने कहा कि चारों दम्पतियों द्वारा लिया गया निर्णय आमजन के लिए मिसाल है। इससे मेडिकल शोध के विद्यार्थियों को लाभ होगा। उन्होंने कहा कि सामाजिक मर्यादाओं के चलते आमजन का देहदान के प्रति झुकाव कम है। मेडिकल कॉलेज द्वारा समय-समय पर इसके प्रति जागरूकता के कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं।

उन्होंने बताया कि मेडिकल कॉलेज की स्थापना से लेकर अब तक कुल 29 लोगों ने देहदान किया है। इनमें 24 पुरूष एवं 5 महिलाएं हैं।

डॉ. राकेश रावत ने कहा कि बड़े शहरों में देहदान के प्रति जागृति है, लेकिन राजस्थान में आमजन में इसके प्रति जागरूकता कम है। देहदान करना, एक पुनीत कार्य है। अधिक से अधिक लोगों को इसके लिए संकल्प लेना चाहिए।