एनएच-2ः शराब माफिया के लिए छाता सर्किल पुलिस बनी मुसीबत


-महंगी कार, कैंटेनर, ट्रक तक हो रहे तस्करी में प्रयोग
-दूर दराज में बैठे माफिया तक नहीं पहुंच पा रही पुलिस
-वाहन चालक या सहायक पहुंच रहे जेल

शराब तस्करी में गिरफ्तार अभियुक्तों की जानकारी देते सीओ छाता जगदीश कालीरमण।

मथुरा। राष्ट्रीय राजमार्ग दो का उपयोग माफिया अवैध शराब की तस्करी के लिए गरियारे के तौर पर प्रयोग कर रहे हैं। शराब तस्करी में कीमती कारों, कंटेनरों और ट्रकों का उपयोग किया जा रहा है। एनएच टू से पुलिस 50 लाख कीमत तक की शराब का जखीरा पकड चुकी है। शराब को छुपाने के लिए माफिया अलग अलग तरीके अपना रहे हैं। कभी पशुओं के चारे के नीचे, कभी भूसे के बोरियों में तो कभी कंटेनर और ट्रक के अंदर ही अलग से चैंबर बना कर शराब को ठिकाने तक पहुंचाने का प्रयास कर रहे हैं। यमुना एक्सप्रेस वे से भी शराब तस्करी की कुछ खेप पकडी गई हैं लेकिन अधिकां श शराब एनएच टू से ही पकडी जा रही है। पुलिस वाहन को जब्त करने के साथ ही वाहन चालक अथवा सहायक को कपड लेती है। वाहन और शराब को जब्त कर लिया जाता है लेकिन पुलिस की पकड में अभी तक बडा माफिया मास्टर माइंड नहीं आया है। खुद पुलिस सू़त्रों का कहना है कि यही वजह है कि शराब तस्करी की खेपों की धरपकड के बावजूद तस्कारी लगातार हो रही है। गिरफ्तार होने वाले वह लोग हैं जो माफिया के लिए काम करते हैं।  

चैकिंग पोइन्ट शेरगढ तिराहा से पुलिस द्वारा शराब तस्करी के आरोप में पकडे गये दो युवक।

बुधवार को 250 और 20 पेटी शराब की दो खेप पकडीं
शराब माफिया पर छाता सर्किल की पुलिस भारी पड रही है। तस्करी की जितनी बडी खेफ पकडी गई हैं, उनमें से अधिकांश छाता सर्किल की हैं। बुधवार को चैकी कोटवन के सामने बैरियर पर कोसीकला पुलिस को बडी सफलता हाथ लगी। पुलिस ने हरदीप पुत्र स्व. विजय कुमार तथा .हरप्रीत सिंह पुत्र विजय कुमार निवासी बहादुरगढ साहिब थाना फतेहगढ साहिब जिला फतेहगढ पंजाब को गिरफ्तार किया। ये 250 पेटी शराब ट्रक से ले जा रहे थे। वहीं चैकिंग पोइन्ट शेरगढ तिराहा कस्वा छाता से बीस पेटी शराब के साथ रवि कुमार पुत्र गंगाराम तथा उमेश पुत्र होराम निवासी गढिया मौहल्ला कस्बा व थाना होडल जिला पलवल हरियाणा को गिरफ्तार किया। ये आई टेन कार से शराब की तस्करी कर रहे थे।

वह कार जिस से हो रही थी शराब की तस्करी।

पांच दिन में छह सफलता
पांच दिन के अंदर ही छाता सिर्कल पुलिस ने शराब तस्करी की तीन बडी खेफ के साथ ही कुछ छह खेप पकडी हैं। दो नवम्बर को तीन लाख की शराब कैंटेनर से जब्त की थी। पांच नवम्बर को 12 लाख की एक और खेप पकडी। 6 नवम्बर को ढाई सौ पेटी अंग्रेजी शराब का बडा जखीरा पकडा।  

2 नवम्बरः 3 लाख की शराब बरामद, एक गिरफ्तार
2 नवम्बरः 80 हजार की शराब के साथ एक गिरफ्तार
5 नवम्बरः 12 लाख कीमत की दो सौ पेटी शराब बरदम, एक गिरफ्तार
5 नवम्बरः 90 हजार की शराब के साथ एक गिरफ्तार
6 नवम्बरः 20 पेटी देशी शराब की जब्त, दो गिरफ्तार
6 नवम्बरः 250 पेटी अंगे्रजी शराब की बरामद, दो गिरफ्तार