प्रचंड लहर में भी मनीराम बागडी का रिकार्ड नहीं तोड सकीं हेमा

-तेजवीर सिंह एक मात्र सांसद जो मथुरा लोकसभा सीट से लगातार तीन बार जीते हैं
मथुरा। 1977 में मथुरा लोकसभा सीट पर मिली भारतीय लोकदल की यह जीत एक कीर्तिमान बन गई। समाजवादी विचारधारा के नेता मनीराम बागड़ी के नाम यह कीर्तिमान है, जिसे तोड़ तो दूर आज तक इसके आसपास भी कोई नहीं पहुंच पाया। बागड़ी हरियाणा के हिसार के रहने वाले थे।  इस लोकसभा चुनाव में मथुरा सीट पर 3 लाख 92 हजार 137 मतों पड़े थे, जिसमें से रिकॉर्ड 76.79 प्रतिशत (2 लाख 96 हजार 518) मत प्राप्त कर मनीराम बागड़ी ने ऐसा कीर्तिमान रचा, जो 42 वर्षों से कायम है। इस सीट पर इतना वोट प्रतिशत किसी को नहीं मिला। वर्ष 1991, 1996, 1998 और 1999 लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने जीत दर्ज की। इसमें भाजपा के चैधरी तेजवीर सिंह ने जीत की हैट्रिक लगाई थी। 2004 में कांग्रेस के मानवेंद्र सिंह ने यहां से वापसी की, लेकिन 2009 के चुनाव में उन्हें रालोद के जयंत चैधरी ने हराया। लोकसभा चुनाव 2014 में मोदी लहर में अभिनेत्री हेमा मालिनी ने 50 फीसदी से अधिक वोट से जीत दर्ज की। इस बार भी भाजपा ने हेमा मालिनी पर भरोसा जताया। इनको टक्कर देने के लिए कांग्रेस ने महेश पाठक, गठबंधन ने रालोद के कुंवर नरेंद्र सिंह को उतारा। चुनाव में इन तीनों के बीच टक्कर मारी जा रही है। कौन जीतेगा, यह 23 मई को पता चलेगा।

मनीराम बागडी का फाइल फोटो