कैंटर ने पुलिस की पीआरवी वैन को मारी टक्कर

-गोताखोंरों ने शव घटना स्थल से पांच किमी दूर मिले
मथुरा। बल्देव के गांव सेहत में दो बच्चों की यमुना में डूबकर मौत हो गई। दोनों बच्चों के शव दूसरे दिन दोहपर बाद गौताखोर निकाल सके। शव घटना स्थल से करीब पांच किलोमीटर आगे जाकर मिले। 
शनिवार को करन 11 वर्ष पुत्र परमिंदर, शिव 13 वर्ष पुत्र स्व.प्रीतम सिंह निवासी रामनगर शहागंज आगरा अपने पड़ोसी अंकित के साथ यमुना में नहाने जाने की कह कर घर से निकले थे। शाम को करीब तीन बजे गांव सेहत के पास यमुना में नहाते समय वह गहरे पानी में चले गये। दोनो बच्चों के डूबने की जानकारी अंकित ने लोगों को दी। इसके बाद ग्रामीण घटना स्थल पर एकत्रित हो गये और गहरे पानी में बच्चों की तलाश शुरू कर दी। बल्देव पुलिस को भी इस बीच सूचना दे दी गई। पुलिस के गोताखोरों ने भी ग्रामीणों के साथ बच्चों की तलाश शुरू की लेकिन अंधेरा गहराने तक बच्चों के शव बरामद नहीं किये जा सके। दूसर दिन रविवार की सुबह एक बार फिर ग्रामीणों और पुलिस के गोताखोरों ने बच्चों की तलाश शुरू की, लेकिन कोई शव बरामद नहीं हुआ। दोहपर को करीब बारह बजे घटना स्थल से करीब पांच किलोमीटर आगे बच्चों के शव गोताखोरों ने तलाश लिये। इस बीच मृतक बच्चों के परिजनों का रो रो कर बुरा हाल था। 13 वर्षीय शिव की के पिता की भी मौत हो चुकी है। शिवम की मां पर मानो दुखों का पहाड़ ही टूट पड़ा हो। बच्चे गर्मियों की छुट्टियों में आगरा से गांव सेहत में रिश्तेदारी में आये हुए थे। पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया। 

फोटो-03यूपीएच मथुरा 07
चित्र परिचय-गोताखारों द्वारा यमुना से निकाले गये बच्चों के शव और मौजूद पुलिस।