ब्रज की होली को ऐसे मिलेगी अंतरराष्ट्रीय ख्याति

उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ एवं हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर को स्मृति चिन्ह देते रंगोत्सव के व्यवस्थापक। 
 
-हर साल एक देश और एक प्रदेश से जुड़ेगी ब्रज की होली
-रंग उत्सव के रूप में विख्यात किया जाएगा ब्रज होली को
-योजना साकार हुई तो साल दर साल भव्य होती जाएगी ब्रज की होली
मथुरा।  प्रदेश सरकार की योजना ने मूर्तिरूप लिया तो साल दर साल ब्रज की होली भव्य और वीवीआईपी होती चली जाएगी। प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने ब्रज की होली को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने का ब्रजवासियों से वायदा किया। मुख्यमत्री यह भी इशारा कर गये कि वह किस योजना पर काम करेंगे और कैसे ब्रज की होली को अंतरराष्ट्रीय ख्याति दिलाएंगे। उन्होंने कहा कि हर साल ब्रज की होली को एक देश और एक प्रदेश के साथ जोड़ा जाएगा। इस बार हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्ट योगी आदित्यनाथ के साथ मौजूद रहे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यह कोई संयोग नहीं है।  श्रीकृष्ण की लीला स्थल ब्रज क्षेत्र रहा है लेकिन उन्होंने गीता का उपदेश हरियाणा के कुरुक्षेत्र में दिया। 
  राधा बिहारी इण्टर कॉलेज में आयोजित रंगोत्सव 2018 कार्यक्रम में मुख्य अतिथि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर का स्वागत किया। इसके साथ ही उन्होंने संतगणों को सम्मानित किया। उन्होंने कहा कि वृन्दावन श्रीकृष्ण जन्म व लीला बृजक्षेत्र में हुई है, लेकिन उन्होंने गीता का अमर संदेश हरियाणा के कुरूक्षेत्र में दिया है। हरियाणा व उत्तर प्रदेश का सांस्कृतिक समन्वय हो और विकास की सत्त प्रक्रिया में यह रंगोत्सव महत्वपूर्ण है। भगवान श्रीकृष्ण ने युद्धभूमि कुरूक्षेत्र को धर्मभूमि में बदल दिया, यह उन्ही की सामर्थ्य थी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि ब्रजक्षेत्र के लोग कण-कण में वृन्दावन बिहारी व राधारानी को देखते हैं। ब्रज क्षेत्र के लोग सौभाग्यशाली हैं कि उनका जन्म ब्रजक्षेत्र में हुआ है। उन्होंने कहा कि ब्रजक्षेत्र के लोगों ने पांच हजार वर्ष पुराने उत्सव को धरोहर के रूप में संजोकर रखा है। बृजक्षेत्र के रंगोत्सव को अर्न्तराष्ट्रीय पहचान दिलाने के लिए हर संभव प्रयास किये जायेंगे। हर वर्ष एक प्रदेश और एक देश की इस रंगोत्सव में भागीदारी का प्रयास किया जायेगा। बृजक्षेत्र के विकास के लिए केन्द्र व राज्य सरकार दृढ़ संकल्पित हैं। इसके लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने बजट में सौ करोड़ का प्रावधान किया है। उन्होंने कहा कि भगवान श्रीकृष्ण जिन-जिन मार्गों से गये हैं, उन मार्गों का सांस्कृतिक व भौतिक विकास करने के लिए कृष्ण सर्किट का निर्माण कराया जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि नन्दगांव, वृन्दावन, गोकुल, राधाकुण्ड तथा बरसाना आदि को तीर्थ स्थल घोषित किया गया है।
 इन स्थलों के विकास में बजट को आडे नहीं आने दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि ब्रज क्षेत्र की पहचान गोपालन से भी है। गायों के पालन व उनकी संरक्षण की प्रवृत्ति को बढाना है। मुख्यमंत्री ने कहा कि डेयरी के विकास के लिए बजट की व्यवस्था की गई है तथा छाता चीनी मिल की भी कार्य योजना बनायी जायेगी। उन्होंने ब्रजक्षेत्र के कलाकारों की प्रंशसा करते हुए कहा कि इन कलाकारों ने विपरित परिस्थितियों में भी बृज के सांस्कृतिक परिवेश को जीवित रखा हुआ है। बृजक्षेत्र के हर घर में गो पालन होना चाहिए। तत्पश्चात मुख्यमंत्री ने प्रियाकुण्ड के पास हुरियारों का स्वागत किया। इस दौरान हैलीकॉप्टर द्वारा पुष्प वर्षा की गई। इस अवसर पर हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि सूरजकुण्ड मेले में उत्तर प्रदेश के कलाकारों ने चार चांद लगा दिया था। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश भारतीय संस्कृति का केन्द्र है। भगवान श्रीकृष्ण ने कुरूक्षेत्र में गीता का ज्ञान दिया, जो अतुल्यनीय है। हरियाणा सरकार बृजक्षेत्र विकास के लिए हर संभव मदद को तत्पर है। बृजक्षेत्र में सिंचाई का प्रमुख साधन आगरा कैनाल है। केन्द्र सरकार के सहयोग से यमुना नदी के साफ-सफाई के लिए प्रयास किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि कुरूक्षेत्र से मथुरा तक के लिए गीता जयन्ती टेज्न चलाई गई है। 
कार्यक्रम को संस्कृति मंत्री लक्ष्मीनारायण चौधरी ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर ऊर्जा मंत्री श्रीकान्त शर्मा, दुग्ध विकास, धमार्थ कार्य, संस्कृति एवं अल्प संख्यक कल्याण मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी, महिला कल्याण, परिवार कल्याण, मातृ एवं शिशु कल्याण तथा पर्यटन मंत्री प्रो. रीता बहुगुणा जोशी, पंचायतीराज राज्यमंत्री(स्वतंत्र प्रभार)/जनपद प्रभारी मंत्री भूपेन्द्र सिंह चौधरी, विधायक ठा. कारिन्दा सिंह, प्रमुख सचिव सूचना एवं पर्यटन अवनीश कुमार अवस्थी, उत्तर प्रदेश बृजतीर्थ विकास परिषद के उपाध्यक्ष शैलजाकान्त मिश्र, अपर पुलिस महानिदेशक अजय आनन्द, मण्डलायुक्त के. राम मोहन राव, आईजी राजा श्रीवास्तव, जिलाधिकारी सर्वज्ञराम मिश्र, एसएसपी स्वप्निल ममगई आदि ने आगवानी कर उनका अभिनन्दन किया।
 
उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ एवं हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर को स्मृति चिन्ह देते रंगोत्सव के व्यवस्थापक।