स्वच्छ भारत मिशन योजना का लाभ लेकर ग्रामीण अपने घरों में शौचालय बनवाए

मैनपुरी ....स्वच्छ भारत मिशन योजना का लाभ लेकर ग्रामीण अपने घरों में शौचालय बनवाए और उसका प्रयोग करें, खुले में शौच करने से एक ओर जहां गंदगी के कारण बीमारियां फैलती ह,ैं वही घर की बहू- बेटियों को खुले में शौच करने से शर्मिंदगी उठानी पड़ती है। समाज में फैली कुरीतियों को दूर करें। सभी प्रसव संस्थागत कराएं और जननी सुरक्षा योजना का लाभ लें संस्थागत प्रसव कराने से जच्चा-बच्चा दोनों सुरक्षित रहेंगे। गर्भावस्था के दौरान गर्भवती महिलाओं को सभी टीके समय से लगे, उनके हीमोग्लोबिन की जांच नियमित हो ताकि पैदा होने वाला बच्चा स्वस्थ रहे। उचित देखभाल न होने के कारण बच्चों में कुपोषण की स्थिति पैदा हो रही है जो सभ्य समाज के लिए शुभ संकेत नहीं है, जो बच्चे कुपोषण से ग्रसित हैं उनकी उचित देखभाल, सही खान-पान, नियमित स्वास्थ्य परीक्षण कराकर कुपोषण से मुक्ति दिलाने की दिशा में अधिकारी कार्य करें।
        उक्त उद्गार सचिव समाज कल्याण, नोडल अधिकारी चंद्रपाल सिंह ने जनपद भ्रमण के दूसरे दिन नगला पाल के प्राथमिक विद्यालय के प्रांगण में ग्रामीणों से सीधे संवाद करते हुए व्यक्त किए। उन्होंने चैपाल में उपस्थित किसानों से कहा कि वह अपने खेतों की मिट्टी का परीक्षण कराएं, अंधाधुंध रासायनिक उर्वरकों का प्रयोग के कारण भूमि की उर्वरा शक्ति घट रही है। उन्होंने किसानो का आव्हान करते हुए कहा कि वह जैविक, कंपोस्ट खादों का प्रयोग करें नई तकनीकी से खेती करें ताकि कम लागत से अधिक मुनाफा कमाया जा सके। उन्होंने अधिशासी अभियंता विद्युत से कहा कि वह गांव में कैंप लगाकर एपीएल परिवारों से 50 रू. जमा कराकर विद्युत कनेक्शन स्वीकृत करें साथ ही बीपीएल. परिवारों को निःशुल्क विद्युत संयोजन दिए जाएं। उन्होंने गांव में कराए गए विकास कार्यक्रमों की समीक्षा करने पर पाया कि लोगों को स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराने हेतु 60 हेडपंप स्थापित हैं जिसमें से 02 हैंडपंप खराब है एक रीबोर होने योग्य है, उन्होंने ग्राम विकास अधिकारी को सर्वोच्च प्राथमिकता पर हेडपंप को रीबोर कराए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने पाया की गांव में 104 लोगों को स्वच्छ शौचालय योजना में लाभान्वित किया गया है सभी शौचालय पूर्ण हो चुके है। 
    प्रधानमंत्री आवास योजना में वर्ष 2016-17 में 03 एवं वर्ष 2017-18 में 02 लोगों को लाभांवित किया गया है, सभी मकान पूर्ण हो चुके है। गांव में 27 वृद्धों को वृद्धावस्था पेंशन, 14 को विधवा पेंशन एवं 08 को दिव्यांग पेंशन योजना में लाभांवित किया जा रहा है, सभी के खातों में शासन स्तर से सीधे पेंशन की धनराशि भेजी जा चुकी है। उन्होंने विद्युत आपूर्ति की जानकारी करने पर ग्रामीणों ने बताया कि गांव में 16-17 घंटे विद्युत की आपूर्ति की जा रही है, गांव में 131 विद्युत कनेक्शन है। उन्होंने शेष लोगों से कहा कि वह भी विद्युत का कनेक्शन लें कटिया डालकर विद्युत चोरी न करें।
        जिलाधिकारी प्रदीप कुमार ने ग्राम प्रधान, ग्राम विकास अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि राज्य वित्त की द्वितीय किस्त प्राप्त होते ही विद्यालय की बाउंड्री का कार्य प्राथमिकता पर कराएं, अभी से प्रस्ताव तैयार रखें, विद्यालय की सर्वोच्च प्राथमिकता पर पुताई कराई जाए, विद्यालय के 02 कमरों में टायल्स लगाए जाएं। उन्होंने एएनएम. से कहा कि वह गर्भवती महिलाओ, किशोरियों को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करें उन्हें सरकारी अस्पतालों में प्रसव कराने हेतु प्रेरित करें। मनरेगा में महिलाओं की सहभागिता बढ़ाई जाए।
          आयोजित चैपाल में मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने स्वास्थ्य से संबंधित, उप निदेशक कृषि ने कृषि विभाग से संबंधित, डीसी एनआरएलएम ने राष्ट्रीय आजीविका मिशन से संबंधित, परियोजना निदेशक डीआरडीए ने मनरेगा, प्रधानमंत्री आवास योजना, जिला समाज कल्याण अधिकारी ने विभिन्न पेंशन, जिला पंचायत राज अधिकारी ने शौचालय योजना, बाल संरक्षण अधिकारी ने  महिला उत्पीड़न के संबंध में ग्रामीणों को विस्तार से जानकारी दी।  
        इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी विजय कुमार गुप्ता, अपर जिलाधिकारी बी.राम, उप जिलाधिकारी भोगांव संदीप कुमार सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।