आगरा के बाह से कोरोना पॉजिटिव का पहला मामला

बाह की महिला कोरोना पॉजिटिव, आगरा के पारस अस्पताल में भर्ती थी महिला 


रवि परिहार ​


आगरा(बाह)। आज बाह के गड़ा पचौरी में एक महिला को कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद समूचे क्षेत्र में दहशत फैल गई। प्रशासन की टीम गांव की ओर दौड़ पड़ी पूरे गांव को कारंटाइंन कराकर सीज कर दिया गया। महिला के परिजनों को विभागीय टीम ने जांच के लिए आगरा भेज दिया है। महिला के संपर्क में आने वाले सभी लोगों की जानकारी की जा रही है। जानकारी के मुताबिक आगरा के पारस हॉस्पिटल में आशा देवी पत्नी पप्पू बघेल निवासी मोहल्ला गड़ा पचौरी 2 अप्रैल से लेकर 6 अप्रैल तक भर्ती रही। इसके के बाद वहां पर कुछ डॉक्टरों से भी इलाज कराया 6 अप्रैल को  महिला को अस्पताल से छुट्टी मिल गई थी  जैसे ही पारस हॉस्पिटल में  डॉक्टर अन्य को पॉजिटिव पाया गया। तो  गढ़ा पचोरी की  महिला को भी सैंपल के लिए बुलाया गया  आज उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव  आने के बाद प्रशासन में हड़कंप मच गया आनन-फानन जिले भर की  प्रशासनिक टीम गड़ा पचौरी पहुंची।  पूरे गांव को  सील कर दिया। पुलिस सभी को चिन्हित कर क्वॉरेंटाइन कराएगी। आगरा से पहुंची टीम परिजनों को भी क्वॉरेंटाइन कराएगी।


आगरा का ताजा हाल


कोरोना संक्रमित मरीज- 104
विदेशों से लौटे- 8
जमात और उनके संपर्क में आए लोग- 52
ऐसे बढ़ा शहर में कोरोना का ग्राफ
3 मार्च जूता कारोबारी, उनके दोनों बेटे, पुत्रवधू, नाती।
7 मार्च जूता कारोबारी की फैक्‍ट्री में मैनेजर।
8 मार्च जूता कारोबारी की फैक्‍ट्री में मैनेजर की पत्नी।
13 मार्च बेंगलुरू से अपने मायके रेलवे कॉलोनी आई युवती।
26 मार्च अमेरिका से लौटा डॉक्टर का बेटा।
27 मार्च लंदन से लौटी आटोमोबाइल कारोबारी की बेटी।
29 मार्च इंग्लैंड से लौटा कॉलेज संचालक का बेटा।
1 अप्रैल कोरोना संक्रमित बेटे के डॉक्टर पिता।
3 अप्रैल सात जमाती और जीवनी मंडी क्षेत्र के दुबई से लौटे युवक में कोरोना की पुष्टि।
4 अप्रैल घटिया आजम खां निवासी युवक के साथ जमाती और उनके संपर्क आए लोगों सहित 25 में कोरोना की पुष्टि।
5 अप्रैल जीवनी मंडी क्षेत्र में दुबई से लौटे युवक की मां और भाई, जगदीशपुरा के चांदी कारीगर में कोरोना की पुष्टि।
6 अप्रैल, रकाबगंज क्षेत्र के हॉस्पिटल के दो टेक्नीशियन, दुबई से लौटा व्यापारी, जमाती सहित पांच में कोरोना की पुष्टि।
8 अप्रैल, दो नए मामलों में कोरोना की पुष्टि।
9 अप्रैल, 19 मामले में पुष्टि।
10 अप्रैल, पांच नए मामलों में पुष्टि, सभी जमाती।
11 अप्रैल, तीन नए मामलों में पुष्टि।
12 अप्रैल तक कुल केस104, 9 ठीक हुए, एक की मौत