स्वयंसेवकों ने घरों पर ही मनाया नववर्ष

-लॉकडाउन का पालन करते हुए घरों पर ही लगाई शाखा
-पारिवारिक सदस्यों के साथ किया आद्य सरसंघचालक प्रणाम


मथुरा। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवकों के लिए चैत्र शुक्ल प्रतिपदा का दिन खासा महत्त्व रखता है, चूंकि यह भारतीय नववर्ष का दिन है तो इसीलिए यह दिन संघ के द्वारा मनाए जाने वाले 6 उत्सवों में तो शामिल है ही, साथ ही साथ इस दिन आरएसएस के संस्थापक डॉ केशवराव बलिराम हेडगेवार का जन्मदिवस भी होता है तो स्वयंसेवक वर्ष में सिर्फ इस दिन ध्वज प्रणाम के साथ साथ सरसंघचालक प्रणाम भी करते हैं।
अब चूंकि प्रधानमंत्री की घोषणा के अनुसार संपूर्ण देश में लॉकडॉउन हो रखा है, इसीलिए संघ ने भी इस दिन सामान्य शाखा ना लगाने के निर्देश देते हुए परिवार शाखा लगाकर यह नववर्ष मनाने के लिए कहा था। घर घर में आज के दिन स्वयंसेवकों ने भगवा ध्वज फहरा कर शाखा लगाई व भारतीय नववर्ष के बारे में चर्चा कर के इस दिन के महत्त्व को समझाया।
बाद में परिवारीजनों  के साथ ही प्रार्थना कर के शाखा समाप्त की गई। कई भारतीय परिवारों में इस दिन यज्ञ हवन भी होता है ऐसे स्वयंसेवकों ने घर पर ही यज्ञ हवन कर के नए साल में देश को हर विपत्ति से बचाने की प्रार्थना की। इस मुहिम में महानगर में निवास करने वाले सभी स्वयंसेवकों ने भाग लिया।
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ मथुरा महानगर द्वारा विक्रम संवत 2077 के प्रथम दिन पर वर्ष प्रतिपदा उत्सव एवं संघ संस्थापक डॉ. केशव राव हेडगेवार जी का जन्म दिवस चैत्र शुक्ल प्रतिपदा बुधवार को मनाया गया। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के लिए वर्ष प्रतिपदा उत्सव का विशेष महत्व है क्योंकि यह भारतीय वर्ष का प्रथम दिन होता है तथा संयोग से संघ के संस्थापक का जन्मदिवस भी है। इसलिए संघ के स्वयंसेवक प्रतिवर्ष पूर्ण गणवेश में डॉक्टर के चित्र के सम्मुख उन्हें आद्य सरसंघचालक प्रणाम करते हुए यह उत्सव को मनाते हैं, लेकिन इस बार देश में कोरोना वैश्विक महामारी के कारण से जो स्थिति पैदा हुई है और सारे देश में लॉक डाउन किया गया है इस बजह से उत्सव की महत्वता को देखते हुए संघ के स्वयंसेवकों ने इस उत्सव को पूर्ण गणवेश में अपने अपने घरों पर ही विधिवत रूप से मनाया । प्रातः काल 7ः15  बजे स्वयंसेवकों ने अपने परिवार के साथी स्वयंसेवकों के साथ पूर्ण गणवेश में परम पवित्र भगवा ध्वज को यथा स्थान रोहित कर संघ संस्थापक डॉक्टर के चित्र पर माल्यार्पण करते हुए उन्हें आद्य सरसंघचालक प्रणाम किया तथा भारतीय नव वर्ष एवं डॉक्टर के जीवन चरित्र पर चर्चा की। कोरोना वैश्विक महामारी के कारण देश में उत्पन्न हुई परिस्थितियों के संदर्भ में विचार करते हुए शासन प्रशासन के निर्देशों का पूर्ण पालन कर समाज जागरूकता एवम सहयोग के विकल्पों पर भी चर्चा की। संघ प्रार्थना  के पश्चात नव वर्ष की शुभकामनाएं  का आदान प्रदान किया गया। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के मथुरा महानगर सह कार्यवाह विजय बंटा सर्राफ ने बताया कि प्रतिवर्ष धूमधाम से मनाया जाने वाला नव वर्ष प्रतिपदा उत्सव को इस वर्ष स्वयं सेवकों ने अपने अपने घरों पर कोरोना से बचाव के नियमों का पालन करते हुए सादगी पूर्ण तरीके से मनाया।