कोरोना ने मुकेश अंबानी की हैसियत को धराशायी किया, नहीं रहे एशिया के सबसे धनी शख़्स!

नई दिल्ली। कोरोना वायरस ने पुरी दुनिया में हड़कंप मचा रखा है। इसने दुनिया की आर्थिक व्यवस्था को चौपट करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहा है। यही कारण है कि कोरोना वायरस का खौफ इस कदर हावी हो गया है कि निवेशकों में हड़कंप मच गया है। बाजार में कोरोना की वजह से हड़कंप मचा हुआ है। यही कारण हैं कि बाजार के नीचे गिरने का असर यह है कि देश के सबसे अमीर शख्स मुकेश अंबानी पर भी पड़ा है।

शेयर बाजार में हाहाकार मचने के कारण मुकेश अंबानी की संपत्ति को भी काफी नुकसान पहुंचा है। पिछले 70 दिनों में उनकी संपत्ति को करीब 15.20 अरब डॉलर (1.11 लाख करोड़) का नुकसान हुआ है। इसकी वजह से उनसे एशिया के सबसे अमीर शख्स का तमगा भी छिन गया। एकबार फिर से अलीबाबा के चेयरमैन जैक मा एशिया के सबसे अमीर शख्स बन गए।

लोग कोरोना वायरस की वजह से सुरक्षित निवेश की ओर भाग रहे हैं, जिसकी वजह से शेयर बाजार लगातार क्रैश कर रहा है। आज कारोबार के दौरान मुंबई शेयर सेंसेक्स 3200 अंक तक फिसल गया था। बाद में मामूली सुधार के साथ यह 2900 अंक गिरकर बंद हुआ। इधर देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या लगातार बढ़ती ही जा रही है। भारत में इसके मरीजों की संख्या 73 पर पहुंच गई है, जिसमें 17 मरीज विदेशी हैं। भारत में यह अब तक करीब 12 राज्यों में फैल चुका है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसे महामारी घोषित कर दिया है।

उधर 27 दिसंबर 2019 को साल के आखिरी कारोबारी दिन रिलायंस का शेयर 1537 रुपये का था। पिछले 70 दिनों में शेयर का भाव घटकर 1063 पर पहुंच गया। एक शेयर की कीमत करीब 475 रुपये तक घट गई है। मतलब कोरोना और अन्य कारणों से रिलायंस के शेयर में करीब 30 फीसदी की गिरावट आई है।