ईरान के 23 सासंद corona virus की चपेट में

ईरान। दुनिया के कम से कम 70 देशों को अपनी चपेट में ले चुके खतरनाक कोरोना वायरस ने ईरान की संसद की नींद उड़ा दी है क्योंकि इस देश के कई सांसद इससे पीड़ित हो चुके हैं। ईरानी संसद के 290 सदस्यों में से 23 के नमूने पॉज़िटिव पाए गए हैं। कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए ईरान ने क़रीब 54 हजार कैदियों को अस्थायी तौर पर रिहा कर दिया है। जिन जेलों में कैदियों की संख्या बहुत अधिक है और जेलें भरी हुई हैं, वहां कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए यह क़दम उठाया गया है।
न्यायपालिका के प्रवक्ता घोलमहुसैन इस्माइली ने पत्रकारों से कहा इन कैदियों की जांच की गई है और इनके सैंपल निगेटिव पाए गए हैं व जमानत पर इन्हें अस्थायी तौर छोड़ा गया है। हालांकि ‘सिक्योरिटी प्रिज़नर्स’ जिन्हें पांच साल से अधिक की सज़ा सुनाई गई है उन्हें नहीं छोड़ा गया है। ब्रिटिश-ईरानी चैरिटी वर्कर नाज़नीन ज़घारी-रैटक्लिफ़ को भी बहुत जल्दी ही छोड़ दिया जाएगा। नाज़नीन के पति ने शनिवार को कहा था कि उन्हें पूरा यक़ीन है कि उनकी पत्नी कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। वो इस समय तेहरान के एविन जेल में हैं, हालांकि अधिकारियों ने उनकी जांच करने से मना कर दिया था।