आगरा में तैनात रहे इंस्पेक्टर का अश्लील विडियो सोशल मीडिया पर हुआ वायरल

आगरा। बसपा सरकार में आगरा में तैनात रह चुका एक चर्चित दरोगा एक बार फिर चर्चा में आ गया है। उसका खुद का बनाया अश्लील वीडियो जालौन में एक न्यूज ग्रुप पर वायरल हो रहा है। झांसी और जालौन में खबर आग तरह फैली हुई है। वहां से वायरल वीडियो आगरा पुलिस और पब्लिक के पास तक पहुंच गया। वीडियो में दिख रही युवती पीड़िता है या प्रेमिका यह जांच का विषय है। वीडियो थाने के अंदर ही बनी हुई है। इंस्पेक्टर ने खुद को बचाने के लिए दो दिन पहले मोबाइल चोरी होने की रिपोर्ट दर्ज करा दी।

मामला कुछ इस प्रकार है। जनपद जालौन के एक थाने में तैनात इंस्पेक्टर का खुद का अश्लील वीडियो झांसी और जालौन के मीडिया वाट्सएप ग्रुप पर वायरल हो रहा है। इंस्पेक्टर बसपा सरकार में आगरा के थाना एमएमगेट, नाई की मंडी और जगदीशपुरा में रह चुका है। महिला को देख पीछे लग जाता था, अगर गलती से वह पीड़िता है, तो वह उसे न्याय दिलाने के एवज में हासिल करने की कोशिश करता। जगदीशपुरा में उसके सताये एक पीड़ित ने बताया कि पति-पत्नी के विवाद में पत्नी द्वारा समझौता कर लिया उसके बाद भी उसकी मन मर्जी नहीं चली तो तीस हजार रुपये ले लिये थे। वाट्सएप गु्रप की महिला सदस्य ने बताया कि वीडियो देख सभी लोग हैरान रह गये। कई लोगों के मोबाइल में ऑटो डाउनलोड होने की वजह से खुद ही सेव हो गई। महिलाओं को ग्रुप में शर्मसार होना पड़ा।

दरोगा ले रहा था मजे
सबसे अधिक तो शर्म की बात यह है कि उसी ग्रुप में शामिल एक दरोगा इंस्पेक्टर की हरकत पर हैरान नहीं हुआ और वीडियो मांगने लगा। महिला पत्रकार ने ग्रुप से तत्काल दोनों पुलिसकर्मियों को रिमूव किया। वीडियो को डिलीट करा दिया। कुछ लोगों ने उसके स्क्रीनशॉट ले लिये। वहां के कुछ समाजसेवियों में इंस्पेक्टर की हरकत से अधिक उसके द्वारा किये जा रहे कृत्य को देख आक्रोश है।

मोबाइल चोरी की लिखाई रिपोर्ट
इंस्पेक्टर से इस संबंध में बात हुई तो वह गलती से वायरल होने की बात कर रहे हैं। स्वीकार किया है कि वीडियो उसकी ही है। खुद को बचाने के लिए इंस्पेक्टर ने मोबाइल चोरी की रिपोर्ट थाने में दर्ज करा दी है। मामले की सही जांच हो जाये तो इंस्पेक्टर को लेने के देने पड़ सकते हैं। जिस सिम को गुम दिखा रहे हैं। वह उनके पास लगातार है। एक व्यक्ति से उनकी प्रतिदिन बात होती रही है।

थाने में यह कर्म शर्म करो खाकी
इंस्पेक्टर का मूलरूप से निवास आगरा में ही बताया जा रहा है। वह जालौन में अकेले रहते हैं। वीडियो में जो युवती साथ है। आखिर वह है कौन, इंस्पेक्टर के चंगुल में कैसे फंस गई। वीडियो में सहमति से इंस्पेक्टर के साथ है, लेकिन पुलिस थाने में वह आई तो अन्य पुलिसकर्मी को क्या बताया होगा कि युवती कौन है। पुलिस थाने में इंस्पेक्टर की छवि किसी रूप में होगी। क्या थाने में महिला सिपाही खुद को सुरक्षित महसूस करती होंगी। आगरा में तैनाती के दौरान भी इंस्पेक्टर का कुछ ऐसा ही हाल था।