मासूम के लिए पुलिस बनी फरिश्ता, परिजनों से मिलाया

रोते बच्चे को पुलिस ने पिलाई चाय
घर का रास्ता भटक गया था मासूम


आगरा। थाना एत्माददौला क्षेत्र के दुर्गा नगर में एक तीन वर्षीय मासूम अपने घर से ताऊ के घर जानक को निकला तो वह रास्ता भटक गया। मासूम को रोता देख पीआरवी 72 पर तैनात सिपाई उसे थाने ले आये। करीब चार घण्टे बाद मासूम के परिजन बच्चें को लेने पहुंचे, तब पुलिस ने बच्चें के पिता को बच्चा सौंपा।
शनिवार को फेस टू स्थित दुर्गा नगर निवासी उदय सिंह पुत्र देसराज का तीन साल का बेटा शिवम अपने घर से सुबह दूसरी गली में स्थित अपनी ताई के घर के लिए करीब 8 बजे निकला। लेकिन बच्चा गली भूल गया और पीराखार की पुलिया पर आ गया। वहां आकर बच्चा रोने लगा, जिसे रोता हुआ देख कर सूचना पर पीआरवी 72 गाड़ी मौके पर पहुंच गई और पूछताछ के बाद मासूम को थाने ले आई।बच्चें को रोता हुआ देख थाने में तैनात सिपाहियों ने उसे खाने की चीज दिलाकर चुप कराया। उदय सिंंह के अनुसार वह अपनी भतीजी को हाई स्कूल के पेपर दिलाने गया था। जब वहां से घर आया तो उसने बच्चें के बारे में पता किया , बच्चें कि मां ने बताया कि वह अपने ताऊ के घर होगा। जब वहां जाकर देखा तो वहां भी बच्चा नही था। उसके बाद घर व अड़ोस पड़ोस में बच्चें की ढूढ डकोर चालू हो गई। किसी राहगीर ने परिजनों को बच्चें के बारें में बताया की बच्चा रो रहा था। जिसके बाद पुलिस की गाड़ी बच्चें को अपने साथ ले गई। राहगीर की बात सुनते ही परिजन थाने पहुच गये, और बच्चें को पुलिस के पास देख कर खुश हो गये। पुलिस ने परिजनों को नाम पता लिखने के बाद बच्चा उनके सपुर्द कर दिया है।