पुलिस ने धर दबोचा दोहरे हत्याकांड का हत्यारोपी

कलयुगी छोटे भाई ने कर दी थी भैया-भाभी की हत्या

मैनपुरी । जमीन हड़पने की नियत ने छोटे भाई के सिर  ऐसी हैवानियत सवार हुई उसने अपने भैया भाभी की ही निर्दयता पूर्वक हत्या कर डाली। इतना ही नहीं भतीजी की भी हत्या करने का प्रयास किया। पुलिस में दोहरे हत्याकांड के हत्यारोपी को आखिर दबोच ही लिया। पुलिस ने घटना में प्रयुक्त लोहे की वसूली घर के पास ही ट्यूबवेल के कुएं से बरामद कर ली है। पुलिस ने लिखा पढ़ी के बाद हत्यारोपी को जेल भेज दिया है।

 पुलिस अधीक्षक अजय कुमार ने  बताया कि थाना कुरावली क्षेत्र के ग्राम निजामपुर में विघ्नेश पुत्र शांति शरण शर्मा तथा उसकी पत्नी गीता देवी की रक्तरंजित लाश मकान के कमरे से बरामद हुई थी ।गीता देवी की मासूम बेटी वैष्णवी गंभीर रूप से घायल थी। दंपत्ति की निर्दयता पूर्वक लोहे की वसूली से सिर में गहरी चोट पहुंचा कर हत्या की गई थी । वैष्णवी की भी हत्या करने का प्रयास किया गया था। लेकिन वह बच गई । एसपी ने बताया घटना के खुलासे के कुराली पुलिस को कड़े निर्देश दिए गए थे ।एसपी ने बताया कि परिवार बालों ने मृतक के छोटे भाई अवनेश पर हत्या करने का मुकदमा दर्ज कराया था । अबनेश पर परिवार के लोगों को शक था। थाना प्रभारी कुरावली ने मुखबिर की सूचना पर अभिनेश को जीटी रोड स्थित नवीन मंडी के पास से गिरफ्तार किया। अविनेश ने पुलिस को बताया कि भैया-भाभी के कोई संतान नहीं थी। वह सोच रहा था भैया के हिस्से की जमीन उसे ही मिलेगी। लेकिन कुछ दिन पूर्व भैया-भाभी ने वैश्णवी को गोद ले लिया था । उसे डर था की जो जमीन उसे मिलने वाली थी । उसके भैया भाभी वैष्णवी के नाम कर देंगे। इसके बाद  दोनों को ठिकाने की योजना बनाई । दबे पांव जाकर भाई के कमरे में जाकर सो गया । इसके बाद योजना के तहत लोहे की वसूली से सिर में प्रहार करके भैया विघ्नेश और भाभी गीता की हत्या कर दी। वैष्णवी की भी हत्या करने के लिए उसके सिर में गहरी चोट पहुंचाई लेकिन वह किसी तरह से बच गई।
 एसपी ने बताया जमीन हड़पने की नियत से ही  अपने ही भैया भाभी की निर्दयता पूर्वक हत्या की है। पुलिस ने हत्यारोपी की निशानदेही पर घर के पास ही बने ट्यूबवेल के कुआं से लोहे की वसूली को बरामद कर लिया है। लिखा पढ़ी के बाद हत्यारोपी को जेल भेज दिया।