झूठी शान के लिए बहन की कर दी हत्या, परिवार के छह लोग हिरासत में

मेरठ । झूठी शान के लिए बहन की हत्या का मामला सामने आया है। आरोप है कि गांव के ही एक युवक से अपनी चचेरी बहन के प्रेम प्रसंग से नाराज भाई ने ताबड़तोड़ तीन गोलियां चलाकर उसे मौत के घाट उतार दिया। पुलिस ने परिवार के छह लोगों को हिरासत में लिया है।
सरधना थाना क्षेत्र के एक गांव में 12वीं की छात्रा के लिए प्यार करना सबब बन गया। लव अफेयर से नाराज छात्रा के ताऊ के बेटे ने उसकी गोली मारकर हत्या कर दी। यही नहीं आरोप है कि घरवालों ने हत्या की वारदात को पुलिस से तीन घंटे तक छिपाए रखा। इस दौरान सबूत मिटाने की भी कोशिश की गई। 
पुलिस के मुताबिक सरधना थाना क्षेत्र के गढ़ी गांव में छात्रा का गांव के ही एक युवक से प्रेम प्रसंग चल रहा था। घरवालों को यह संबंध मंजूर नहीं था और वे इसका विरोध करते थे। जब तान्या अपनी बात पर अड़ी रही तो उसे घर में ही कैद कर दिया था। उसका घर से बाहर निकलना बंद कर दिया गया था। छात्रा के ताऊ का घर पास में ही है। ताऊ का बेटा प्रशांत काफी समय से इस प्रेम प्रसंग से नाराज चल रहा था। 
शनिवार की रात छात्रा किसी काम से ताऊ के घर गई थी। वहां आरोपी प्रशांत ने उसे प्रेम प्रसंग से दूर रहने की हिदायत दी। बताते है कि इस बात को लेकर भाई-बहन में कहासुनी हो गई। इस दौरान छात्रा ने प्रेमी के साथ शादी करने की बात कह दी। बताते हैं कि इससे खफा प्रशांत ने उसे एक के बाद एक तीन गोली मार दी। छात्रा ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। फिर भी परिजन उसे अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। 

आरोप है कि छात्रा के परिजनों ने घटना को कई घंटे तक छिपाए रखा। एसपी देहात फरेंसिक टीम के साथ गांव पहुंचे। पुलिस ने जब सख्ती से परिजनों से पूछताछ की तो झूठी शाने के लिए हत्या की बात सामने आई। एसपी देहात अविनाश पांडे ने बताया, 'परिजन तीन घंटे तक घटना को छुपाए रहे। परिजनों ने घर में बिखरा खून साफ करने की कोशिश की, जिसे देखकर शक हुआ। घर का सामान भी अस्त-व्यस्त था। मौका-ए-वारदात से ऐसा लगता है कि छात्रा ने मरने से पहले संघर्ष किया। चूड़ियां टूटी हुई थीं। मुख्य आरोपी प्रशांत, छात्रा के माता-पिता, भाई, ताऊ को पकड़ा गया है।'