लूटे गए ट्रक में लगा था जीपीएस, पुलिस को मिली सफलता

आगरा। 5 जनवरी की रात को एत्मादपुर थाना क्षेत्र के आईओसी कट के पास में लूटे गए ट्रक की घटना का खुलासा एत्मादपुर पुलिस ने कर दिया है। दरअसल एसएसपी आगरा बबलू कुमार और एसपी देहात रवि कुमार के नेतृत्व में ट्रक लूट की घटना का खुलासा करने के लिए टीम का गठन किया गया था। जिसमें बीती रात को एत्मादपुर पुलिस को यह सफलता मिली है। 5 जनवरी को लूटे गए ट्रक लूट कांड का पर्दा उठाते हुए महज 24 घंटे के अंदर है एत्मादपुर पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। इस लूट कांड का खुलासा करते हुए पुलिस ने तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया है।

पकड़े गए बदमाश राजस्थान के धौलपुर जिले के रहने वाले चौब सिंह, योगेश और अनिल हैं। इनके पास से पुलिस ने लूटे गए ट्रक को बरामद कर लिया है और दो मोबाइल भी बरामद किया हैं।

दरअसल जिस ट्रक के साथ में लूट की वारदात को अंजाम दिया गया है और जिस लुटेरे चोब सिंह को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। फाइनेंस पर चौब सिंह नाम के लुटेरे ने पहले इसी ट्रक को खरीदा था। मगर किस्त ना अदा करने के एवज में फाइनेंस विभाग ने इस ट्रक को धर्मेंद्र नाम के व्यक्ति को बेच दिया था जो रायबरेली का रहने वाला था। बस इसी कुंठा के तहत चोब सिंह ने रायबरेली के रहने वाले धर्मेंद्र के ट्रक की लूट की वारदात का प्लान बनाया और अपने दो साथियों के साथ में लूट की वारदात को अंजाम दे दिया। मगर चौब सिंह यह भूल गया था कि जिस ट्रक को वह लूटने जा रहा है। उस ट्रक में जीपीआरएस सिस्टम और पासवर्ड था जिसके तहत सिंह चोब सिंह अपने दोनों साथियों के साथ पुलिस के हत्थे चढ़ा है। पुलिस को यह सफलता वास्तव में काबिले तारीफ है। 24 घंटे के अंदर जहां पुलिस ने ट्रक लूट कांड से पर्दा उठाया है और तीन लुटेरों को जेल भेज दिया।