रिटार्य एलआईयू इंस्पेक्टर ने लगाया रिश्वत मांगने का आरोप

-सहायक लेखाकार की शिकायत एसएसपी से की
मथुरा। रिटायर्ड एलआइयू इंस्पेक्टर ने एसएसपी से शिकायत की है कि उसकी पंेशन को खाते में भेजने की एवज में सहायक रेखाकार उनसे रिश्वत की मांग कर रहे हैं। उन्होंने एसएसपी को बताया कि वह डेढ साल से राशिकरण के लिए भटक रहे हैं लेकिन उन्हें मिल नहीं पा रही है। 11 लाख 52 हजार 404 रुपये खाते में भेजने की बात सहायक लेखाकार कह रहे हैं। लेकिन राशि खाते में न आने पर पूछा तो सहायक लेखाकार रिश्वत की मांग करने लगे। दरोगा ने एसएसपी से न्याय की गुहार लगाई है।
एलआईयू का रिटायर्ड दरोगा राशिकरण (पेंशन) के लिए डेढ़ साल से दर-दर भटक रहा है। हरद्वारी लाल मथुरा एलआईयू में दरोगा के पद से 31 मई 2018 को रिटायर्ड हुआ था। राशिकरण के 11 लाख 52 हजार 404 रुपये न मिलने पर रिटायर्ड दरोगा ने सहायक लेखाकार सतीश यादव और अनिल यादव से जानकारी की तो उन्होंने राशि खाते में डालने की बात कही। पता करने पर खाते में कोई राशिकरण का भुगतान नहीं हुआ है।
दरोगा का आरोप है कि सहायक लेखाकार रिश्वत में पांच लाख रुपये की मांग कर रहे। न देने पर जान से मारने की धमकी दे रहे। दरोगा ने एसएसपी शलभ माथुर से राशिकरण दिलाने की मांग की है। अन्यथा की स्थिति में वह कोर्ट की शरण भी ले सकता है।