आवारा पशु फसलों को रौंद रहे हैं पैरों तले

शमशाबाद क्षेत्र के किसान आवारा पशुओं से काफी दुखी


नरेश धाकरे
आगरा/शमशाबाद। शमसाबाद क्षेत्र में आवारा पशुओं से परेशान किसान किस तरीके से कर रहे हैं अपनी फसल की रखवाली इसका खुलासा जब हुआ जब अग्र भारत की टीम किसानों के बीच पहुंची। शमशाबाद क्षेत्र में भारी मात्रा में आलू और गोभी का उत्पादन किया जाता है लेकिन शमशाबाद क्षेत्र का किसान आवारा पशुओं से काफी परेशान हो गया है। किसानों का कहना है कि आवारा पशु हमारी फसलों को बर्बाद कर रहे हैं जिसके चलते अन्नदाता किसान काफी दुखी है। किसानों का कहना है कि हम अपनी फसल की रखवाली अपने खेत पर ही झोपड़ी बनाकर पूरी रात्रि करते हैं। किसानों का कहना है कि पूर्व में तो कई  आवारा पशु हमला कर चुके हैं। किसानों का कहना है कि आवारा पशु टोलियां बनाकर खेतों में घुसते हैं और फसलों को बर्बाद करते हुए निकल जाते  है। यदि ऐसा ही हाल रहा तो किसान भीख मांगने पर मजबूर हो जाएगा। दिसंबर का महीना चल रहा है कड़कड़ाती ठंड में किस तरीके से किसान अपनी फसल की रखवाली करता है। हाथ में टॉर्च और डंडा लेकर और अलाव जलाकर  अपने खेत की मेड पर बैठकर किसान पूरी रात्रि आवारा पशुओं से अपनी फसल को बचाने का प्रयास करते हैं। लेकिन फिर भी आवारा पशुओं का झुंड इतनी बड़ी तादाद में आता है कि किसानों की फसलों को अपने पैरों तले रौंदकर चला जाता है जिसके कारण शमशाबाद क्षेत्र का किसान काफी दुखी हो चुका है।