स्फीहा ने किया चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन


आगरा। शहर को स्वच्छ एवं दूषित पर्यावरण से मुक्त करने को संकल्पित संस्था स्फीहा ने प्रत्येक वर्ष की तरह इस बार भी चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया। इस अवसर पर 27 स्कूलों के 402 बच्चो ने भाग लिया।


 प्रतियोगिता का आयोजन तीन वर्गों में किया गया जिसमें कक्षा 4 से कक्षा 12 तक के छात्र/छात्राओं ने भाग लिया। विजयी प्रतिभागियों को आगामी वर्ष के कैलेंडर में प्रत्येक वर्ष की भांति इस बार भी स्थान दिया जाएगा जिसकी प्रति देश के राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, उत्तर प्रदेश के गवर्नर, मुख्यमंत्री, आगरा शहर के प्रशाशनिक अधिकारियों, सरकारी एवं गैरसरकारी संस्थाओं के साथ-साथ देश के विख्यात उद्दोगपतियो को भेजा जाएगा।


कोकन्वेनर श्रीमती गुरप्यारी संगीता भटनागर ने बताया कि जूनियर वर्ग का विषय "Under water scenery " , सीनियर वर्ग का विषय "Poster on unity in diversity " एवं सुपर सीनियर वर्ग का विषय था "If I could invent one thing to make Agra a better Place.
निर्णायक मंडल में थे ललित कला संस्थान से डॉ मृदुल जुनेजा, डॉ ममता बंसल,डॉ मनोज कुमार, सचदेव इंस्टीटूट से डॉ आभा गुप्ता,वैकुंठी देवी कॉलेज से डॉ बिंदु अवस्थी एवं डॉ सविता प्रसाद। चित्रकला प्रतियोगिता में ओवर आल चैंपियन रहा गायत्री पब्लिक स्कूल, रनर अप रहा सिम्किन्स पब्लिक स्कूल।


मुख्य अतिथि स्फीहा उपाध्यक्ष गुरसरूप सूद एवं विशिष्ट अतिथि  एस. राजकुमार, नेशनल सेल्स प्रमोशन मैनेजर, कैमलिन ने विजयी प्रतिभागियों को अपने कर कमलों द्वारा पुरस्कृत किया। जहा एक ओर चित्रकला महारथी कला का प्रदर्शन कर रहे थे और उनके परखी उसका निर्णय , वही दूसरी ओर नृत्य , गायन में निपुण बच्चे भी हम किसी से कम नही का परिचय दे रहे थे। 
सांस्कृतिक कार्यक्रम में प्रेम विद्यालय, एक पहल,गायत्री पब्लिक स्कूल एवं प्रील्यूड पब्लिक स्कूल के छात्र/छात्राओं की प्रस्तुति को दर्शकों ने खूब सराहा।
इस अवसर पर स्फीहा अध्यक्ष एम.ए.पठान, उपाध्यक्ष राजीव नारायण एवं गुरसरूप सूद, दयाल सरन, एस.एस. श्रीवास्तव, कर्नल आर.के.सिंह, संत भनोत, श्रीमती आरती सिंह एवं प्रील्यूड पब्लिक स्कूल की प्रधानाचार्य श्रीमती याचना चावला उपस्थित थे।
कार्यक्रम का संचालन किया डॉ कविता रायजादा एवं डॉ निशीथ गौर ने किया। धन्यवाद ज्ञापन प्रदीप सहगल ने दिया।