खेरागढ़ के खंडर में पड़ा मिला किशोरी का शव


 

आगरा। शनिवार को सुबह ही किशोरी का गर्दन कटा शव मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। घर से शौच के लिए गई किशोरी का शव गांव मेें स्कूल के पास बनी खंडर पड़ी बिल्डिंग में पड़ा मिला। शव को देख घटना स्थल पर लोगों की भीड़ इक्ठठा हो गई। घटना की सूचना मिलते ही आगरा ग्रामीण एसपी रवि कुमार, क्षेत्राधिकारी अछनेरा नम्रता श्रीवास्तव फोर्सा के साथ मौके पर पहुंच गये।
खेरागढ़ थाना क्षेत्र के गांव खां के गढ़ निवासी गौरी (17) पुत्री  हरिओम  सुबह तड़के शौच के लिए घर से निकली। जब कई घण्टों तक घर वापिस नही आयी तो परिजनों ने गांव में किशोरी को ढूंढना शुरू किया। काफी देर के बाद किशोरी का गर्दन कटा शव स्कूल के पास खंडर पड़ी बिल्डिंग में पड़ा मिला। गर्दन कटा शव मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। ग्रामिणों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। सूचना पर ग्रामिण एस.पी रवि कुमार , क्षेत्राधिकारी अछनेरा नम्रता श्रीवास्तव फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गये।
   
परिजनों ने शव देने से किया इंकार 
घटना से क्षुब्ध परिजनों ने पुलिस को शव देने से इंकार कर दिया। हालात मुश्किल होते देख कई अन्य थानों का फोर्स भी मौके पर पहुंच गया। सूचना पर पहुंचे एसएसपी ने ग्रामीणों व परिजनों को समझाया जिसके बाद परिजन शव देने को राजी हुए। पुलिस ने शव को कब्जे में लेने के बाद पोस्टमार्टम गृह भेज दिया।

मौके पर पहुंचे एसएसपी 
घटना की सुचना मिलते ही आगरा एस.एस पी बबलू कुमार फोरेंसिक टीम, डॉग स्क्वॉयड के साथ ही अन्य टीमें पहुंच गयी जहाँ घटना स्थल से लेकर युवती के कपडों आदि की जाँच की गई बतौर पुलिस प्रथम दृष्यता हत्या का मामला लग रहा है। परिजनों ने अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस टीम ने काफी दूर तक खेतो में सर्च ऑपेरशन किया लेकिन कोई सुराग नहीं मिला।
पिता हरिओम ने बताया ---
 मृतका के पिता हरिओम ने बताया कि वह सुबह जाग कर पशुओं को चारा खिलाने गये थे। जब कई घण्टों बाद भी बेटी घर नहीं लौटी को परिजनों को चिंता हुई। बेटी को गांव में तलाश किया लेकिन बेटी का शव खंडर बिल्डिंग में पड़ा मिला। आगे बताया कि गौरी की मॉ को कैंसर है, जिसकी वजह से वह बिस्तर से उठ चल नहीं सकती है। बेटी ने माँ की देखभाल करने के लिए पढ़ाई तक छोड़ दी।
पुलिस मामले को प्रेम सम्बंध से जोड़कर भी देख रही है। एसएसपी बबलू कुमार का कहना है कि घटना गम्भीर है इस मामले के लिए तीन अलग अलग टीम बनाई गई है घटना का जल्द से जल्द खुलासा करने का  प्रयास किया जा रहा है।