जमीनी विवाद में महिला को लगी गोली

मनीष गर्ग
आगरा (लादूखेड़ा) । लादूखेड़ा कस्बे के जैन मंदिर वाली गली में जमीन पर कब्जे को लेकर हुए विवाद के चलते सोमवार रात्रि  दो पक्षो में विवाद देखते-देखते गाली गलौज से बढ़कार गोली चलने तक पहुंच गया। गोली प्रथम पक्ष की महिला कमलेश पत्नी भागीरथ (60 साल) के बाजू में लगी। विमल पुत्र भागीरथ ने गोली की सूचना कन्ट्रोल रूम में दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल महिला को इलाज के लिए आगरा हॉस्पिटल ले गई।

पीड़ित विमल ने बताया कि दो माह पूर्व लादूखेड़ा निवासी गोपाल पोद्दार से सौ गज जमीन ली थी। जमीन खरीदने के बाद से ही दूसरे पक्ष रमो पुत्र दौजी,बल्ला पुत्र दौजी से कहा सुनी होने लगी थी। जमीन खरीदने के एक सप्ताह बाद ही दूसरे पक्ष ने मारपीट की थी। तब मां कमलेश के पैर मे चोट आयी थी और वहीं दूसरे पक्ष के बल्ला पुत्र दौजी,रवि पुत्र बल्ला की पत्नी के सिर में चोट आई थी। तब पुलिस को बल्ला की तरफ से तहरीर दी गई थी ।उसके तुरन्त बाद ही गांव के कुछ सभ्रांत लोगों ने बैठकर दोनों पक्षों मे समझौता करा दिया था।

सोमवार रात्रि विमल, मां कमलेश व पत्नी पूनम के साथ जैन मंदिर पर गोर्वधन पूजा कर घर लौट रहे थे। रास्ते मे बल्ला नाई का घर पड़ता है। बल्ला नाई के घर के सामने आपस मे दोनों पक्षो में गाली गलौज होने लगी। देखते-देखते बात गोली तक पहुंच गई। वहीं विमल पुत्र भागीरथ का कहना है गोली उसको निशाना बनाकर चलाई गई थी लेकिन माँ कमलेश की बाजू में लगी है। विमल ने बताया कि वे घर की तरफ भागे। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गयी। पुलिस घायलों ने अपनी गाड़ी से अस्पताल भेजा।

वहीं दूसरे पक्ष बल्ला आदि का कहना है कि विमल ने आकर उसके बच्चों से गाली गलौज की। गाली गलौज का विरोध किया तो विमल ने हाथापाई शुरू कर दी। बच्चों ने भी हाथापाई कर दी जिसमें विमल अकेला होने के कारण विमल के चोट लग गई। उसके बाद विमल वहां से गाली देता हुआ और नाईयों को गांव छोड़कर भागाने की धमकी देते हुए अपने घर की तरफ भागा और थोड़ी देर में ही गोली चलने की आवाज आ गई और गोली विमल ने ही अपनी मां में दी है और हम पर फर्जी मुकदमा लिखवाने का उसके द्वारा प्रीप्लानिंग बनाया गया है। मौके पर खैरागढ़ सीओ प्रदीप कुमार पहुँचे और जांच कर कानूनी कार्यवाही करने की बात कही।