तेज रफ़्तार ने फिर ली एक की जान, 3 घायल

आगरा। तेज रफ्तार के कहर ने घर की खुशियां छीन ली। हादसा की भीषड़ता का अंदाज़ा इस बात से लगाया जा सकता है की मारुति बलेनो कार के परखचे उड़ गए। टककर की आवाज सुनकर ग्रामीण घटना स्थल की ओर दौड़े और कार सवार लोगों को बाहर निकालने में जुट गए। घटना की सूचना क्षेत्रीय पुलिस को दी। जानकारी होते ही क्षेत्रीय पुलिस और यूपीडा मौके पर पहुँच गयी और लोगों को बाहर निकालकर अस्पताल पहुँचाया। इस हादसे में एक युवती ने अपनी जान गंवा दी।
घटना थाना डौकी क्षेत्र अंतर्गत गांव गुड़ा के पास आगरा लखनऊ एक्सप्रेस वे की है। रास्ता भटक जाने पर ड्राइवर कार को आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर ले गया। रफ्तार तेज होने से बलेनो अनियंत्रित होकर डिवाइडर से टकरा गई। दुर्घटना इतनी भीषण थी कि कार के परखच्चे उड़ गए। कार में बैठी मुंबई की युवती की मौके पर ही मौत हो गई। उसके शव को बमुश्किल बाहर निकाला जा सका। उसकी साथी दोस्त और ड्राइवर गंभीर रूप से घायल हो गए जिन्हें पुलिस ने यूपीडा की मदद से अस्पताल में भर्ती कराया।
मौके पर पहुँचे ग्रामीणों ने कार से शायली पुत्री इकनाथ पवार और स्मृति नाईक पुत्री प्रमोद नाईक को बमुश्किल बाहर निकाला। इस दुर्घटना में 28 वर्षिये शहीदा हर्ष नैन की मौके पर ही मौत हो गई। ड्राइवर आकाश निवासी दिल्ली भी दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल हो गया। शायली गंभीर रूप से घायल है, जबकि स्मृति के मामूली चोटें आई हैं। दुर्घटना के बाद युवतियों का बुरा हाल था। घायलों को आगरा के हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है।