हत्या व लूट में वांछित 25 हजार का ईनामी बदमाश मुठभेड़ में गिरफ्तार

छः माह पूर्व किसान की हत्या कर लूटा था टैक्टर  


फिरोजाबाद। थाना नारखी व क्राइम ब्रांच पुलिस ने शनिवार की रात्रि में लूट व हत्या के मामले में छः माह से फरार चले रहे 25 हजार के ईनामी वांछित शातिर अभियुक्त को मुठभेड़ में गिरफ्तार कर उसके कब्जे से कार व तमंचा बरामद किया है। एसएसपी ने रविवार की दोपहर घटना का खुलासा करते हुये हत्यारोपी लुटेरे को जेल भेजा है। पकड़े गये बदमाश का आपराधिक इतिहास है। 
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सचिन्द्र पटेल ने बताया कि 25/26 फरवरी की रात्रि बदमाशों द्वारा नारखी थाना क्षेत्र के गांव पिपरौली के पास सड़क किनारे सो रहे किसान की हत्या कर एक सोनालिका टैक्टर लूटा था। पुलिस ने मामला दर्ज कर 28 मार्च को घटना को अंजाम देने वाले चार हत्यारोपी लुटेरों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। जबाकि घटना का मुख्य सरगना दीपा ठाकुर भागने में सफल हो गया था।

उन्होंने बताया कि शनिवार की रात्रि मुखविर की सूचना पर थानाध्यक्ष नारखी लोकेन्द्र सिंह व क्राइम ब्रांच प्रभारी कुलदीप सिंह ने पुलिस टीम के साथ जव इस सरगना दीपा ठाकुर को आलमपुर पुलिया के पास चेकिंग करते हुये पकड़ना चाहा तो इसने पुलिस पर फायरिंग कर दी। पुलिस ने बल प्रयोग कर इसे पकड़ लिया। एसएसपी ने पकड़े गये हत्यारोपी लुटेरे का नाम फिरोजाबाद के थाना टूण्डला क्षेत्र के गांव उलाऊ निवासी दीपा ठाकुर उर्फ गणेध उर्फ दीपक चैहान पुत्र गंगा सिंह बताया है। उन्होंने बताया कि इस पर 25 हजार का ईनाम भी घोषित था। इसके कब्जे से एक सैन्ट्रो कार, एक तमंचा व कारतूस बरामद हुये है। इस पर जनपद व अन्य जनपदों में लूट, हत्या आदि के लगभग 20 आपराधिक मुकदमे दर्ज है।