साधु के बोरे से बरामद हुआ 7वीं कक्षा का छात्र

-साधु को पकड कर ग्रामीणों ने किया पुलिस के हवाले, पूछताछ जारी
-इससे पहले बच्चे के अपहरण के आरोप में दो साधुभेषधारी युवकों को थाना राया क्षेत्र में पकडा था ग्रामीणों ने


मथुरा। कच्छाधारी बदमाषों के खौफ के बीच बच्चा चारों का डर भी धीरे धीरे फैलने लगा है। एक सप्ताह के अंदर इस तरह की दो घटनाएं सामने आई हैं। जिसमें ग्रामीणों ने बच्चे के अपहरण के आरोप में साधुभेषधारी लोगों को पकड कर पुलिस के हवाले किया है। पहली घटना थाना राया क्षेत्र में हुई हुई थी। यहां दो साधुभेषधारी युवकों को ग्रामीणों ने बच्चे के अपहरण के आरोप में पकडा था। हालांकि पुलिस ने बाद मे ंउन्हें पूछताछ करने के बाद छोड दिया।  यह मामला बरसाना रोड का है। मीना नगर निवासी राजू का 11 वर्षीय पुत्र समीर 7वीं कक्षा का छात्र है। स्कूल से छुटटी के बाद घर लौट रहा था। छात्र के अनुसार वह साधु उसका पीछा कर रहे थे। इसके बाद साधु उसे रोक कर बात करने लगे।
बात करने के बाद वह भी साधुओं के पीछे चलने लगा। उधर, जब समीर घर नहीं लौटा तो परिजनों ने समीर की खोजबीन करनी शुरू कर दी। बच्चे का बैग रेलवे लाइन के किनारे पड़ा मिला। जिसको लेकर परिजन सकते मे आ गए। इसी दौरान कालोनी के दो युवक बच्चे को खोजते हुए नंदगांव रोड पर पहुंचे तो देखा कि दो साधु एक बोरे में किसी चीज को लेकर जा रहे थे, लोगों को शक हुआ। उन लोगों ने बोरी खुलवा कर देखी तो उसमें बच्चा था।
साधुओं ने उसके मुंह पर टेप लगा रखा था। लोगों की बढ़ती भीड़ को देख एक साधु भाग गया। दूसरे को पकड़कर लोगों ने पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस साधु से पूछताछ कर रही है। एक घंटे से बोरे में बंद बच्चे की हालत खराब होने से उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। प्रभारी निरीक्षक दुर्गेश कुमार ने बताया कि बच्चे का उपचार चल रहा है। साधु से पूछताछ कर उसके दूसरे साथी के बारे में पता लगाया जा रहा है एवं दोनों के इतिहास को भी खंगाला जा रहा है।

’खौफजदा’ हैं लोग, हो सकती है बडी वारदात
कच्छा बनियान गिरोह का आतंक यूपी और राजस्थान के सीमावर्ती गांवों में फैला हुआ है। ग्रामीण इतने खौफजदा हैं कि रात को जाग कर पहरा दे रहे हैं। किसानों समूह में रात के समय खेतों पर जा रह हैं, आवार गौवंष से खेतों में खडी फसल को बचाना किसानों के लिए चुनौती बना हुआ है। दूसरा बदमाषों का भय भी उन्हें सता रहा है। अब बच्चा चोर गैंग के दो मामले सामने आने से लोगों की चिंता और बढ गई है।