जीएलए यूनिवर्सिटी बनी डायन, एक युवक को और निगला

युवक ने मौत को लगाया गले, जीएलए यूनिवर्सिटी में 15 दिन के अंदर लगाई दूसरी फांसी
अलीगढ जनपद का रहने वाला है फांसी लगाकर की आत्महत्या वाला छात्र  गगन अग्रवाल 
पुलिस मौके पर कमरा सील कर घटना की जांच में जुटी 

मथुरा राष्ट्रीय राजमार्ग सं.2 पर स्थित जी.एल.ए.यनीवर्सटी इन दिनों छात्र छात्राओं के लिए काल बनती जा रही है। विगत दस दिन पुर्व आगरा निवासी एक छात्रा ने कालेज के हास्टल में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। उस  सदमे से कालेज के छात्र छात्रा अभी उबर भी नहीं पाये थे कि एक तरफ जहाँ सारा देश गणतन्त्र दिवस मना रहा था वहीं यूनिवर्सिटी के हास्टल में बी.टेक प्रथम बर्ष के छात्र गगन अग्रवाल  ने मौत को गले लगा लिया ।

घटना का पता चलते यूनिवर्सिटी में हडकंप मच गया जबकि मृतक गगन का बड़ा भाई बीती रात ही उससे सकुशल मिलकर गया था। उक्त घटना की सूचना परिजनो को हुई तो परिवार में भी कोहराम मच गया। वहीं घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल पर जाकर कमरा सील कर जांच शुरु करदी है। कालेज प्रशासन के रसूख के आगे शासन प्रशासन व पुलिस की जांच संदेह के घेरे में है। 
वहीं स्थानिय बडे़ मीडिया संस्थान भी इनके आगे पानी भरते नजर आते हैं। विगत घटना से सबक लेकर यदि कार्यवाही हुई होती तो आज ऐसी घटना की पुनरावृत्ति नहीं होती घटना के बाद यूनिवर्सिटी परिसर में छात्र छात्राओं में भय का माहौल है। अफवाह ये भी है कि वहाँ किसी आत्मा का साया है। होस्टल के छात्र-छात्राओं को रात्रि में भयानक आवाजें सुनाई दे रही है।

अभी एक हफ्ते पहले ही विश्वविद्यालय के हाॅस्टल की तीसरी मंजिल पर कमरे में छात्रा का शव दुपट्टे से पंखे से लटका मिला था। छात्रा विश्वविद्यालय से एमबीए कर रही थी।