एटीएम फ्रांड का नया तरीका जिसने उड़ाए पुलिस के होश...

आगरा.... आगरा में एटीएम के अंदर कार्ड बदलकर रुपये निकालने वाला गैंग पकडा गया है, इनके पास से 21 एटीएम कार्ड जब्त किए हैं। पुलिस ने एटीएम कार्ड से जालसाजी करने वाला गैंग पकडा है, आगरा की क्राइम ब्रांच की टीम ने गैंग के पांच लोगों को गिरफ्तार  किया है,  पूछताछ में सामने आया की ये शातिर महिलाएं और बुजुर्गों को अपना निशाना बनाते थे। ये एटीएम के बाहर खडे रहते थे और जैसे ही एटीएम से कैश निकालने कोई  बुजुर्ग या महिला आती तो ये हरकत में आ जाते थे।
शातिर दो मशीन वाले एटीएम के बाहर खडे रहते थे, बुजुर्ग और महिला एटीएम में कैश निकालने पहुंचते थे तो उनके पीछे लाइन में खडे हो जाते थे। उनकी मदद करने के नाम पर एटीएम कार्ड ले लेते थे, उनसे पिन नंबर डालने की कहकर उनके कार्ड से एटीएम की दूसरी मशीन से स्वैप कर देते थे। उनका पिन नंबर देखने के बाद दूसरी मशीन से ट्रांजेक्शन करने के बाद चले जाते थे, महिला और बुजुर्ग के कैश निकालकर बाहर निकले पर मोबाइल पर एक के बाद पैसे निकालने के दो मैसेज आ जाते थे। बैंक में शिकायत करने पर बताया जाता था कि उनके एटीएम से ही दो बार में पैसे निकाले गए हैं। शातिर आगरा, फिरोजाबाद, मथुरा,  अलीगढ़, गाजियाबाद, दिल्ली,  हरियाणा और मध्य प्रदेश के कई शहरों में घटनाओं को अंजाम दे  चुके है ।
क्राइम ब्रांच की टीम ने एटीएम फ्राड में राजस्थान के धौलपुर निवासी फिरोज हनीफ, मथुरा के कोसी निवासी शोएब, शाहगंज के खेरिया मोड़ निवासी बंटी अब्बासी, शाहगंज के आजम पाड़ा निवासी फरमान को गिरफ्तार कर लिया  है। उनके कब्जे से 25000 रुपये और 21 एटीएम कार्ड बरामद हुये हैं।