5245 साल बाद फिर संगीनों के साये में जन्मेंगे श्रीकृष्ण

5245 साल बाद फिर संगीनों के साये में जन्मेंगे श्रीकृष्ण
-कन्हा के जन्मोत्सव की खुशी की खुमारी में डूबे ब्रजवासी
-चप्पे चप्पे पर खुफिया नजर, आपात स्थिति से निपटने की पूरी तैयारी
-पैरामिलिट्री फोर्स, पीएसी, यूपी पुलिस, महिला कांस्टेबल तैनात
मथुरा। 5245 साल बाद एक श्रीकृष्ण मथुरा में संगीनों के साये में जन्मेंगे। अद्भुत संगोग है कि वही ग्रह नक्षत्र के संयोग हैं। भक्तों को कान्हा के आगमन का अद्भुत और सुखद अहसास हो रहा है। समूचा ब्रज कान्हा के जन्मोत्सव की खुमारी में डूब गया है। अपने आराध्य के आगमन खुशी में नरनारी उल्लालित हैं। श्रीकृष्ण जन्मभूमि की मनोहारी छटा  ऐसी है कि बखनी नहीं जा सकती। 
ब्रज के मठमंदिर ही नहीं घर घर में अजन्मे के जन्म की तैयारी पूरी हो चुकी है। पालने से लेकर खिलोने तक खरीद दिये हैं। यह ब्रज ही है जहां श्रीकृष्ण से लाडले लाल जैसा लाड़ लड़ाया जाता है। 
श्रीकृष्ण जन्मोत्सव पर सुरक्षा के पुख्ता और अचूक बंदोबस्त को देख कर श्रद्धालुओं को कंस काल की अभेद्य जैल जैसा आभास अनायास हो ही जाता है। 
वृंदावन में स्कॉन, ठाकुर बांकेबिहारी, प्रेम मंदिर, राधाकांतजू मंदिर, टेडेखम्भों वाला मंदिर हो या रंगजी मंदिर, बल्देव में दाऊजी मंदिर, गोकुल में नंदभावन, महावन में चौरासी खम्भा मंदिर हो या नंदगांव का नंदभवन गोवर्धन की दानघाटी हो मथुरा का द्वारिकाधीश मंदिर भक्तों की भीड़ से पटे पड़े हैं। सड़क के फूट पाथ से लेकर धर्मशाला और होटल सब एक दिन पहले ही फुल हो गये हैं। शहर में जगह जगह जूता चप्पल घर बनाये गये हैं जिससे लोगों को असुविधा नही हो। 
 
सुरक्षा के कड़े पहरे में होगा कान्हा का जन्म
सुरक्षा की दृष्टि से तीन जोन और 16 सैक्टर में बांटा है, 6 अपर पुलिस अधीक्षक, 50 पुलिस निरीक्षक, 300 उप निरीक्षक, 16000 कांस्टे बल, 8 कंपनी पीएसी, 2 कंपनी पैरा मिल्ट्री आरएएफ, महिला उपनिरीक्षक 25, महिला कांस्टेबल 200, 500 होमगार्ड लगाये गये हैं। 
 
श्रद्धालुओं से अपनी
श्रद्धालु अपना इलेक्ट्रानिक सामान, जूता, चप्पल नियत स्थान पर रखें, वाहन नियत स्थान पर पार्क करें। 
 
खुफिया, तसरी आंख की 
सीसीटीवी कैमरों की नजर मे हर महत्वपूर्ण स्थान है, इंटेलीजेंस भी बढ़ा दी गई है, बमरोधक दस्ते शहर भर मेें सक्रिय हैं। डीडीएस टीम अलग से काम कर रही है। 
 
जारी है हर जगह चैकिंग
जन्मस्थान के यलो जोन के आवासीय मकानों, शहर भर के हाटलों, धर्मशालाओं में लगातार चैकिंग की जा रही है। बमरोधक दस्ते भी जगह-जगह तैनात हैं। केंद्रीय खुफिया एजेंसियों की नजर भी कान्हा की नगरी पर लगी हुई है। 
 
आपात कालीन स्थिति से निपटने की पूरी तैयारी
कान्हा की नगरी इस समय हाईअलर्ट पर है। आपात कालीन स्थिति से निपटने के लिए एजेंसियां तैयार हैं। 
 
फोटो-02यूपीएच मथुरा01, 01ए
चित्र परिचय-श्रीकृष्ण जन्मस्थान पर प्रवेश के लिए कतार में लगी श्रद्धालुओं की भीड़।
 
फोटो-02यूपीएच मथुरा02
चित्र परिचय-श्रीकृष्ण जन्मस्थान में प्रवेश से पहले श्रद्धालुओं की चैकिंग करता सुरक्षाकमी।
 
फोटो-02यूपीएच मथुरा03
चित्र परिचय-श्रीकृष्ण जन्मस्थान पर तैनात सुरक्षाकर्मी।