भाकियू के नेतृत्व में खेत छोड़ सड़क पर उतरे किसान

कोमल सोलंकी
 
भाकियू के नेतृत्व में खेत छोड़ सड़क पर उतरे किसान
-भाकियू के शक्ति प्रदर्शन ने दिलाई महेन्द्र सिंह टिकैत के समय की याद
-सैकड़ों की संख्या में किसान बसों और ट्रैक्टरों में भर कर पहुंचे कलक्ट्रेट
-प्रदेश नेतृत्व के आह्वान पर मथुरा में किया भाकियू ने शिक्त प्रदर्शन
मथुरा। भारतीय किसान यूनियन के नेतृत्व में बड़ी संख्या में किसान सोमवार को सड़क पर उतर आये और अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन किया। प्रदेश नेतृत्व के आह्वान पर भारतीय किसान यूनियन की मथुरा इकाई ने नवनियुक्त जिलाध्यक्ष राजकुमार तौमर के नेतृत्व में शक्ति प्रदर्शन किया। सुबह करीब ग्यारह बजे बसों और ट्रेक्टरों में भर कर सैकड़ों की संख्या में किसान कैंट बिजली घर पर एकत्रित हुए। यहां से जिलाध्यक्ष के नेतृत्व में किसानों ने कलक्ट्रेट की ओर कूंच किया। टैंक चौराहे से कलक्ट्रेट भाकियू कार्यकर्ताओं का हुजूम भाकियू के संस्थापक महेन्द्र सिंह टिकैत के दिनों में भाकियू के  जलवे की याद दिला रहे थे। लम्बे समय बाद मथुरा में भारतीय किसान यूनियन ने इस तरह का बड़ा भीड़भाड़ वाला कार्यक्रम किया।  भाकियू ने दस सूत्रिय मांगों को लेकर प्रधानमंत्री और स्थानीय समस्याओं को लेकर आठ सूत्रिय ज्ञापन सिटी मजिस्ट्रेट बसंतलाल को सौंपा। 
ज्ञापन देने के बाद जिलाध्यक्ष राजकुमार तोमर ने कहाकि  कि किसान समस्याओं से ग्रसित हैं, धान की रोपाई का समय चल रहा है और नहरों में पानी नहीं आ रहा है। उन्होंने तहसीलों में हो रहे भ्रष्टाचार के मुद्दे को प्रमुखता से उठाया। जिलाध्यक्ष ने कहाकि लेखपाल और दूसरे कर्मचारी किसानों का कोई भी काम बिना रिश्वत लिये नहीं कर रहे। किसानों में इस से आक्रोश है, सरकार भी उपेक्षा कर रही है। किसान को सड़क पर उतरने के लिए मजूर कर रही है। 
मंडल अध्यक्ष गजेंन्द्र परिहार ने कहाकि वर्तमान सरकार ने किसानों के हित में कई घोषणा की हैं लेकिन उनका लाभ किसानों को मिल नहीं रहा है, सरकार किसानों को नजर अंदजार कर रही है, सरकार की इस उपेक्षा का जबाव देने का समय आ गया है। 
 
सिंचाई विभाग के अधीक्षण अभियंता को घेरा, सुनायी खरी- खोटी
मथुरा जनपद में किसान समस्याओं से ग्रसित हैं। जिले की नहरों में धान की रोपाई को पानी नही आ आरहा। अधिकारी सुनते नहीं। कई माइनरों की साफ सफाई तक नही करायी गई। नारे बाजी करते हुए भाकियू कार्यकर्ता सिंचाई विभाग के अधीक्षण अभियंता के कार्यालय जा पहुंचे। अधिकारियों को घेर कर जमकर खरी खोटी सुनाई। 
 
इन्होंने किया आंदोलन का नेतृत्व
जिलाध्यक्ष राजकुमार तौमर, मंडल प्रभारी चौधरी सिकंदर सिंह, मंडल अध्यक्ष गजेंद्र परिहार, ब्लाक प्रमुख बल्देव राजपाल भरंगर, जिला मीडिया प्रभारी चौ. दलबीर सिंह, मंडल सचिव लेखराज सिंह, जयपाल छौंकर प्रधान, रविकांत पाराशर, ललित, राम अवतार, रिंकू सेठ, विवेक देसवार, श्यामवीर प्रधान, शीशपाल प्रधान, साधु प्रधान, मोहनवीर सिकरवार, विक्की मधुर,सोनवीर परिहार, छम्मी लाल आदि।
 
फोटो-09यूपीएच मथुरा04
चित्र परिचय-भाकियू के नेतृत्व में सड़क पर प्रदर्शन करते किसान।
 
फोटो-09यूपीएच मथुरा04ए
चित्र परिचय-सिटी मजिस्ट्रेट बसंत लाल अग्रवाल को ज्ञापन सौंपते जिलाध्यक्ष राजकुमार तौमर एवं अन्य भाकियू नेता।
*