कैसे दुनिया का दूसरा सबसे सस्ता देश है भारत

दैनिक अग्रभारत 
दिल्ली /टीम डिजिटल 

कमाई के लिहाज से सभी देशों में रहना आसान नहीं होता, लेकिन अगर रिटायर हो जाए तो ये काम और मुश्किल हो जाता है। इसी बात को लेकर एक सर्वे किया गया है जिसमें सबसे सस्ते देशों में भारत का नाम भी है।

यह सर्वे अमेरिकी संस्था गोबैंकिंगरेट्स द्वारा किया गया है, इसमें ये दावा किया गया है कि 112 देशों में रहने और रिटायर होने के मामले में सबसे सस्ता देश दक्षिण अफ्रीका है और दूसरे स्थान पर भारत है। सबसे सस्ता देश दक्षिण अफ्रीका है और दूसरे स्थान पर भारत है। जबकि सबसे महंगा देश 112वीं रैंक के साथ बरमूडा है और 11वीं रैंक बहामास और 110वीं रैंक हांगकांग की है।

इन आधारों पर तुलना

इसमें 112 देशों की तुलना स्थानीय क्रय शक्ति सूचकांक, मकान किराया सूचकांक, सामान सूचकांक और उपभोक्ता मूल्य सूचकांक के मापदंडों पर की गई है। सभी देशों की तुलना न्यूयॉर्क से की गई है। सबसे सस्ते 50 देशों में ये मापदंड 30 से 70 फीसदी कम है।

भारत दूसरा सबसे सस्ता देश

अगर बात 50 सबसे सस्ते देशों की बात की जाए तो इन देशों में भारत की जनसंख्या सबसे अधिक है। देश में वस्तुओं और खाद्य सामग्रियों की दर कम हैं। भारत अन्य देशों ही नहीं अपने पड़ोसी देशों से भी सस्ता है। सूची में पाकिस्तान की रैंक 14 है। वहां के शहर लाहौर में व्यक्ति के एक महीने का खर्च 530 डॉलर है। नेपाल की रैंक 28 है। वहीं बांग्लादेश की रैंक 40 है। नेपाल में मकान किराया सूचकांक सबसे कम है। दूसरे स्थान पर भारत है।